चेन्नई: भारत में कोविड-19 पीड़ितों का आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है। इस बीच तालाबन्दी में छूट का दायरा बढ़ गया है। 1 जून से तमिलनाडु राज्य में सैलून और ब्यूटी पॉर्लर खोल दिए गए हैं, लेकिन हेयर कटिंग के लिए आधार कार्ड अनिवार्य होगा। यहां प्रदेश सरकार ने नाई की दुकान के लिए एसओपी जारी कर दी है।
तमिलनाडु सरकार की ओर से जारी एसओपी के मुताबिक, अगर आप बाल कटवाना चाहते हैं तो आधार कार्ड दिखाना होगा. सैलून मालिक हर कस्टमर का नाम, पता, फोन नंबर और आधार कार्ड नंबर दर्ज करेंगे. अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. माना जा रहा है कि इस कदम को कोरोना वायरस से बचने और संक्रमण को ट्रेस करने के लिए उठाया गया है। 

राज्य सरकार द्वारा क्या शर्तें रखी गई हैं:
सामाजिक दूरी को बनाए रखने और कई ग्राहकों को एक साथ इकट्ठा होने से बचाने के उद्देश्य से, सैलून, ब्यूटी पार्लर और स्पा को ‘सर्विस बाई अपॉइंटमेंट’ यानी कि दुकान पहुंचने से पहले जानकारी देनी होगी।
सैलून में 50 फीसदी सीट पर ही ग्राहकों को सेवा दी जाए ताकि सामाजिक दूरी का भली भांति पालन हो सके। कम से कम ग्राहकों को प्रतीक्षा करने की अनुमति दी जानी चाहिए। एक ग्राहक के लिए उपयोग किए जाने वाले ब्लेड का उपयोग दूसरे के लिए नहीं किया जाना चाहिए और उपयोग किए गए ब्लेड को सुरक्षित रूप से हटा दिया जाना चाहिए। हटाए गए बाल, फेस पैक आदि को सुरक्षित रूप से हटाना चाहिए। केवल डिस्पोजेबल तौलिए का उपयोग किया जाना चाहिए। यदि तौलिए और हैंड बैंड फिर से उपयोग किए जाते हैं, तो उन्हें धोने के बाद ही दूसरे ग्राहक के लिए उपयोग किया जाना चाहिए।

कुर्सियों, हैंडल, टेबल, दरवाजों, शीशों और मसाज बेड और कुर्सियों के हैंडल, पेडीक्योर और फेशियल/स्पा ट्रॉलियों के लिए उपयोग किए जाने वाले बेड, पानी के नल जिनका उपयोग अक्सर सैलून, ब्यूटी पार्लर और स्पा में किया जाता है, उन्हें हाइपोक्लोराइट मिश्रण से दिन में पांच बार साफ किया जाना चाहिए। सैलून, ब्यूटी पार्लरों और स्पा को अपने यहां काम करने वाले कामगारों के लिए पेपर नैपकिन की उपलब्धता सुनिश्चित करने में मदद करनी चाहिए ताकि वे अपने हाथों को साफ कर सकें। सैलून, ब्यूटी पार्लरों और स्पा में काम करने वाले कामगारों को अपना काम पूरा करने से पहले और बाद में अपने हाथों को सैनिटाइजर से साफ करना चाहिए। उन्हें मास्क और ग्लव्स पहनने चाहिए। सैलून, ब्यूटी पार्लर और स्पा के मालिकों और कामगारों को अक्सर अपनी नाक, मुंह और आंखों को छूने से बचना चाहिए।

तमिलनाडु सरकार ने पहले ग्रामीण इलाकों में सैलून खोलने की इजाजत दी थी, लेकिन अब पूरे प्रदेश में सैलून और ब्यूटी पार्लर खोले जा रहे हैं. सैलून मालिकों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कहा गया है. साथ ही नाई को हर वक्त मास्क और साफ-सफाई बनाए रखने का आदेश दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here