नई दिल्ली: कोरोना वायरस का खतरा अभी भी देश पर मंडरा रहा है. इसी के चलते केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों के कार्यालय आने के बारे में नए दिशा-निर्देश जारी किए. सरकारी कार्यालयों में कोरोना पॉज़िटिव मामले लगातार बढ़ने के बाद ये कदम उठाया गया है. सरकार के नए दिशा-निर्देश अब केवल उन कर्मचारियों को कार्यालय आने को कहा जिन्हें कोई लक्षण नहीं है.

कार्मिक लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय ने सर्कुलर जारी करके कहा है कि वे ही कर्मचारी दफ्तर में आएं, जिन्हें कोरोना वायरस से संबंधित कोई लक्षण नहीं हैं। जिन्हें हल्का बुखार, गले में खराश आदि हो, वे सभी घर पर ही रहें और ऑफिस न आएं।

दिशा-निर्देशों में क्या कहा गया है-

  • जिसमें कोई लक्षण नहीं होगा उसे आने की अनुमति है। अगर किसी में हल्का बुखार, खांसी या जुकाम होता है तो वो घर पर ही रहे।
  • कंटेनमेंट जोन में रहने वाले अधिकारी/कर्मचारी दफ्तर ना आएं, उनका इलाका जब तक कंटेनमेंट जोन में रहता है वो तब तक घर से ही काम करें।
  • एक दिन में 20 से ज्यादा लोग दफ्तर में काम ना करें। बाकी का स्टाफ घर से काम करे। इसके लिए रोस्टर का पालन हो।
  • अवर सचिव/उप सचिव के अंतर्गत अगर कोई कैबिन शेयर करता है तो अलग-अलग दिन दफ्तर आएं।
  • एक सेक्शन में दो से ज्यादा अधिकारी ना हों। दफ्तर के घंटों का वितरण इस हिसाब से हो कि एक समय पर 20 से ज्यादा लोग एक जगह पर ना हों।
  • हॉल्स में पर्याप्त वेंटिलेशन के लिए खिड़कियां खुली रखी जाएं।
  • दफ्तर परिसर में सभी को हर समय फेस मास्क और फेस शील्ड को पहने रखना है। अगर कोई बिना मास्क के दिखा तो उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी।
  • इस्तेमाल के बाद फेस मास्क और दस्तानों को पीले रंग के बाओ मेडिकल वेस्टबिन में डालें। अगर सामान्य डस्टबिन या खुले में किसी ने भी मास्क और दस्ताने रखे, तो उनके खिलाफ भी अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी।
  • अगर किसी को इस तरह का वेस्ट दिखे तो सफाईकर्मियों को बताएं। जितना हो सके आमने सामने खड़े होकर बात ना करें। इसके लिए फोन और अन्य माध्यमों की मदद लें।
  • वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सभी हॉल में हर एक घंटे में हाथ साफ करने की सुविधा है। सभी कॉरिडोर्स में हैंड सैनिटाइजर की भी व्यवस्था की जाएगी।
  • बार-बार छुए जाने वाले दरवाजे, बटन, एलीवेटर, बाथरूम आदि को हर एक घंटे में साफ किया जाएगा।
  • इसके अलावा सभी कर्मचारियों को अपना निजी सामान जैसे, लैपटॉप, कीबोर्ड, माउस आदि को साफ रखना होगा।
  • बैठते या चलते वक्त भी लोगों से एक मीटर की दूरी बनाकर रखें।
  • दफ्तर में कुर्सियां इस तरह अरेंज हों कि सोशल डिस्टैंसिंग बनी रहे।

सरकार ने कंटेनमेंट जोन में रहने वाले कर्मचारियों को घर से ही काम करने के लिए कहा है। एक दिन में 20 से अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों को कार्यालय में नहीं उपस्थित होना है। इसके अनुसार, विभागों से ड्यूटी चार्ट बनाने के लिए कहा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here