नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस तेजी से पांव पसार रहा है। अब इस बीच कोरोना वायरस की जांच को लेकर भारत ने बड़ी सफलता हासिल कर ली है। भारत ने कोविड-19 के एंटीबॉडी का पता लगाने वाली टेस्टिंग किट को तैयार कर लिया है।


डॉ हर्षवर्धन ने इस बारे में बताया कि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी पुणे ने कोरोना वायरस के एंटीबॉडी का पता लगाने के लिए 1 स्वदेशी anti-SARS-CoV-2 human IgG ELISA टेस्‍ट किट को सफलतापूर्वक विकसित किया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने बताया, यह संक्रमण के संपर्क में आने वाली आबादी के अनुपात की निगरानी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्होंने कहा कि इस जांच किट के जरिए ढाई घंटे की एक पाली में 90 नमूनों की जांच की जा सकती है। ऐसे में स्वास्थ्य पेशेवर बीमारी के मद्देनजर ज्यादा तेजी से अगले जरूरी कदम उठा सकेंगे।


स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया, इस किट को मुंबई में 2 जगहों पर मान्य किया गया था और इसमें उच्च संवेदनशीलता और सटीकता है। इसके जरिए 2।5 घंटों में एक साथ 90 सैंपल टेस्ट किए जा सकते हैं। जिला स्तर पर भी एलीसा आधारित परीक्षण आसानी से संभव है। वहीं अब इस टेस्टिंग किट का बड़े पैमाने पर उत्पादन किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here