हाईलाइट
गिरफ्तार किए गए 101 आरोपियों में एक भी मुस्लिम नहीं
पालघर लिंचिंग केस पर बोले गृह मंत्री अनिल देशमुख

मुंबई: पालघर मॉब लिंचिंग मामले में चौतरफा घिरी उद्धव सरकार  के मंत्री अनिल देशमुख ने दावा किया कि 101 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है जिनमें से एक भी मुस्लिम नहीं है। उन्होंने आरोपियों के नाम की लिस्ट भी जारी की साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि विपक्ष इसे सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश कर रहा है।

फेसबुक के माध्यम से अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्य है कि पालघर मामले पर सांप्रदायिक राजनीति हो रही है। बिना नाम लिए उन्होंने कहा कि कुछ लोग मुंगेरी लाल के हसीन सपने देख रहे हैं। यह राजनीति करने का समय नहीं है, बल्कि मिलकर कोरोना वायरस से लड़ने का वक्त है।

उन्होंने बताया, ‘वीडियो में आवाज आ रही है ‘ओए बस’, लेकिन लोगों ने ऑनलाइन मेसेज भेजकर कहा कि ‘शोएब बस’।’ उन्होंने कहा, ‘आज पूरे महाराष्ट्र मे सभी कोरोना से लड़ाई लड़ रहे हैं। ऐसे में धार्मिक रंग लाना बिल्कुल गलत है,लेकिन ऐसे समय में भी कुछ लोग मुंगेरी लाल के हसीन सपने देखने का काम कर रहे हैं। सभी सरकार को सहायता करें।’

महाराष्ट्र सरकार ने घटना की उच्च-स्तरीय जांच के आदेश दिए और ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में सोमवार को पालघर के दो पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया।

यह घटना 16 अप्रैल की रात की है जब दो साधू तथा उनका चालक किसी परिचित के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए कार से मुंबई से गुजरात के सूरत जा रहे थे।

उनके वाहन को पालघर जिले के एक गांव के पास रोक लिया गया जहां भीड़ ने बच्चा चोरी करने के संदेह में तीनों को कार से बाहर निकाला और उनकी लाठियों से पीट-पीटकर हत्या कर दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here