नई दिल्ली: दिल्ली में कोरोना के इलाज की दरें घटा दी गईं हैं. गृह मंत्रालय ने निजी अस्पतालों में कोरोना के इलाज के लिए निर्धारित राशि फिक्स करने के लिए एक कमिटी बनाई थी. कमिटी ने मौजूदा दरों को दो तिहाई घटाने की सिफारिश की थी.

3 गुना कम हो गया कोरोना के इलाज का खर्चा
कमिटी ने पीपीई किट के साथ आइसोलेशन बेड के लिए 8,000-10,000, बिना वेंटिलेटर के साथ ICU बेड का चार्ज 13-15 हजार होगा। जबकि वेंटिलेटर के साथ ICU बेड का चार्ज 15-18 हजार होगा. बता दें कि पहले निजी अस्पतालों में आइसोलेशन बेड का चार्ज 24-25 हजार रुपये था. वहीं ICU बेड का चार्ज 34-43 हजार के बीच था जबकि ICU वेंटिलेटर के साथ 44-54 हजार रुपये था. ये चार्ज पीपीई किट को छोड़कर लगते थे.

बता दें कि फिलहाल दिल्‍ली के प्राइवेट हॉस्पिटल में आइसोलेशन बेड के लिए 24 से 25 हजार रुपये प्रतिदिन के हिसाब से लिया जाता है. यह दरें कोविड हॉस्पिटल्‍स के लिए हैं जहां कोरोना का इलाज होता है.

गृह मंत्रालय ने बताया, ‘दिल्ली के प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए इलाज के लिए नई दरें लागू कर दी गई हैं.’ गृह मंत्रालय ने कहा कि दिल्ली के 242 कंटेनमेंट ज़ोन में कल घर-घर जाकर स्वास्थ्य सर्वे पूरा ​किया गया. कुल 2.3 लाख लोगों का सर्वे किया गया.’

दिल्ली में कोरोना का टेस्ट हुआ तिगुना
गृह मंत्रालय ने बताया कि इस बीच दिल्ली में कोरोना की टेस्टिंग दोगुनी हो चुकी है. गृह मंत्री शाह ने कुछ दिन पहले कहा था कि दिल्ली में जल्द ही तीन गुनी कोरोना टेस्टिंग होगी. दिल्ली में 15-17 जून के बीच कुल 27,263 सैंपल एकत्र किए गए थे. इससे पहले यह आंकड़ा 4-5 हजार के बीच था.

दिल्ली में कोरोना
दिल्ली में बीते 24 घंटे के दौरान 8726 कोरोना टेस्ट किए गए, जिनमें से से 2877 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं और 65 लोगों की मौत हो गई है. दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की कुल संख्या 49,979 हो गई है. इनमें से 21,314 कोरोना रोगी स्वस्थ हो चुके हैं और 1969 लोगों की मौत हो चुकी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here