हाईलाइट
• ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से इस्तीफा
• सिंधिया ने कहा है कि वह कांग्रेस में रहकर अपने लोगों के लिए काम नहीं कर सकते
• मोदी कैबिनेट में मंत्री बन सकते हैं सिंधिया

नई दिल्ली: मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं। नाराज चल रहे कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। सिंधिया का अब भाजपा में शामिल होना लगभग तय माना जा रहा है। छह राज्य मंत्री सहित 19 कांग्रेस विधायकों ने भी विधानसभा से इस्तीफा दे दिया।

अपनी तकलीफ बताते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया लिखते हैं, ‘पिछले 18 साल से मैं कांग्रेस पार्टी का सदस्य रहा हूं लेकिन अब आगे बढ़ने का समय आ गया है। मैं कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रहा हूं। आप जानती हैं कि पिछले साल से ही मैं इससे बच रहा था। शुरुआत से ही मेरा उद्देश्य देश और मेरे राज्य के लोगों की सेवा करना रहा है। मेरा मानना है कि इस पार्टी में रहते हुए अब मैं यह नहीं कर सकता हूं।’

‘महाराज’ के नाम से चर्चित सिंधिया खुले तौर पर कमलनाथ सरकार को घेर चुके हैं। सिंधिया के इशारे पर ही कई विधायक और मंत्री भी कमलनाथ सरकार पर उंगली उठाते रहते थे। जब सिंधिया ने कमलनाथ सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरने की चुनौती दी तो कमलनाथ ने दो टूक कहा दिया कि ‘तो उतर जाएं।’

सिंधिया के पाले में आते ही बीजेपी ने सरकार बनाने की तैयारी शुरू कर दी है. आज बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के साथ बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक भी बुलाई गई है. इस बैठक में मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सरकार बनाने को हरी झंडी दी जाएगी.

इस्तीफा देने से पहले सिंधिया दिल्ली में सुबह अपने आवास से निकलकर सीधे गृहमंत्री अमित शाह से मिलने पहुंचे और इसके बाद शाह के साथ ही वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पहुंच गए. पीएम के आवास पर सिंधिया की बैठक सुबह 10.45 बजे शुरू हुई.

करीब एक घंटे तक पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच बैठक चली. पीएम मोदी से मुलाकात के बाद सिंधिया अमित शाह की कार में बैठकर ही बाहर निकले. इससे पहले सिंधिया अपने आवास से अकेले खुद कार चलाकर अमित शाह के घर पहुंचे थे, जहां से अमित शाह के काफिले में लोक कल्याण मार्ग पर पीएम आवास पहुंचे. पीएम मोदी से मुलाकात के बाद ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here