हाईलाइट
• करीब-करीब स्थिति साफ हो गई है कि 17 मई के बाद भी लॉकडाउन खत्म नहीं होगा
• पीएम मोदी के बयान के मुताबिक चौथे चरण में कुछ और पाबंदियां उठाई जा सकती हैं

नई दिल्ली: देश में बढ़ रहे कोरोना संकट के बीच पीएम मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बैठक में कहा कि आप सभी के सुझावों से दिशा-निर्देश निर्धारित होंगे। इस बीच जहां कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने पीएम मोदी से लॉकडाउन बढ़ाने की मांग की है तो वहीं गुजरात इसके पक्ष में नहीं है।
प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की तरफ से जारी बयान के मुताबिक पीएम ने कहा, ‘मेरा दृढ़ विश्वास है कि लॉकडाउन के पहले चरण में जिन नियमों की दरकार थी, वो दूसरे चरण में जरूरी नहीं रह गईं। उसी तरह तीसरे चरण के नियमों की दरकार चौथे चरण के लॉकडाउन में नहीं है।’ प्रधानमंत्री के इस बयान से संदेह की गुंजाइश नहीं के बराबर रह जाती है कि लॉकडाउन की मियाद 17 मई के बाद भी बढ़ेगी और 18 मई से लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू हो जाएगा। उम्मीद की जा सकती है कि जल्द ही चौथे चरण के लॉकडाउन की मियाद का ऐलान भी हो जाए।
पीएम मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान लॉकडाउन के बारे में कई राज्यों ने अलग-अलग राय रखी। कुछ राज्य जहां लॉकडाउन में खोलकर हवाई, रेल समेत उद्योग धंधों को चालू की वकालत की तो कुछ राज्यों ने केन्द्र की तरफ से शुरू की गई रेल सेवा को रोकने की मांग करते हुए कहा कि इससे कोविड-19 संक्रमण का प्रसार होगा।
किसने ने क्या कहा
तमिलनाडु ने कहा- 31 मई तक न करें ट्रेन सेवा शुरू
मध्य प्रदेश के सीएम ने कहा, रेडजोन और कंटेनमेंट क्षेत्र में हो पूर्ण लॉकडाउन
छत्तीसगढ़ी सीएम ने कहा- रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन के निर्धारण का दायित्व राज्य सरकारों को दिया जाना चाहिए
आंध्र सीएम ने कहा, हालात सामान्य करने की है जरूरत
बिहार के सीएम ने कहा, 31 मई तक बढ़ाया जाए लॉकडाउन
अरविंद केजरीवाल ने कहा, कंटेनमेंट को छोड़ पूरी दिल्ली करें ग्रीन जोन
लॉकडाउन को कंटेनमेंट जोन तक सीमित रखा जाना चाहिए-गुजरात सीएम
ममता ने कहा- एक ओर केन्द्र लॉकडाउन का पालन करवा रहा दूसरी ओर ट्रेन सेवाएं शुरू
तेलंगाना सीएम ने ट्रेन सेवा शुरू करने का किया विरोध

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here