नई दिल्ली: भारत सरकार ने 43 और मोबाइल ऐप्स को बैन कर दिया है। सरकार ने आईटी ऐक्ट की धारा 69-A के तहत इन ऐप्स को भारत में यूजर्स के डेटा तक पहुंच को ब्लॉक कर दिया है। इससे पहले जून, जुलाई और सितंबर में भी भारत ने चाइनीज मोबाइल ऐप्स को बैन किया था। सरकार की ओर से बताया गया है कि कार्रवाई यह इनपुट मिलने के बाद की गई है कि ये ऐप्स भारत की संप्रभुता, अखंडता, रक्षा, सुरक्षा और कानून व्यवस्था के खिलाफ गतिविधियों में लिप्त हैं।

भारत ने सबसे पहले जून के आखिर में टिकटॉक, हेलो समेत 59 चाइनीज ऐप्स पर बैन लगाया था। उसके बाद जुलाई के आखिर में 47 और ऐप्स के भारत में इस्तेमाल को प्रतिबंधित किया गया। 2 सितंबर को भी सरकार ने पबजी समेत 118 मोबाइल ऐप्स पर बैन लगाया था।

सरकार ने जिन ऐप्स पर बैन लगाया है उनमें अली सप्लायर्स मोबाइल ऐप, अलीबाबा वर्कबेंच, अली एक्सप्रेस, अलीपे कैशियर, लालामूव इंडिया, ड्राइव विद लालामूव इंडिया, स्नैक वीडियो, कैमकार्ड-बिजनेस कार्ड रीडर, कैम कार्ड- बीसीआर वेस्टर्न, सौउल, चाइनजी सोशल, डेट इन एशिया, वी डेट,  फ्री डेटिंग ऐप, एडोर ऐप, ट्रूली चाइनीज, ट्रूली एशियन, चाइना लव, डेट माय एज, एशियन डेट, फ्लर्ट विश, गायज ओनली डेटिंग, टूबिट, वी वर्क चाइना, फर्स्ट लव लाइव, रीला, कैशियर वॉलेट, मैंगो टीवी, एमजीटीवी, वी टीवी, वीटीवी लाइट, लकी लाइव, टाओबाओ लाइव, डिंग टॉक, आईडेंटिटी वी, आईसोलैंड 2, बॉक्स स्टार, हैपी फिश, जेलीपॉप मैच, मंचकिन मैच, कॉनक्विस्टा ऑनलाइन शामिल हैं।

अब इन 43 ऐप्स पर लगा बैन
इस बार जिन 43 ऐप्स पर बैन लगाया गया है उनमें से ज्यादातर डेटिंग ऐप्स हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here