नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ही सभी राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों से कोरोना वायरस के हालात पर बात की थी। वह COVID-19 के ट्रांसमिशन रेट को रोकने के साथ-साथ पब्लिक ऐक्टिविटी शुरू करना चाहते हैं। माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री देश में जारी लॉकडाउन में छूट देने या इसे बढ़ाने को लेकर घोषणा कर सकते हैं। प्रधानमंत्री ऐसे समय पर देश को संबोधित करने वाले हैं जब एक दिन पहले ही उन्होंने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से बात की थी।


ट्विटर पर जैसे ही पीएमओ के हैंडल से पीएम मोदी के आज रात देश को संबोधित करने की खबर आई, सोशल मीडिया पर अटकलें भी तेज हो गईं। सबसे ज्यादा कयास लॉकडाउन 4 को लेकर लगने लगे। कुछ ही देर में #Lockdown4 टॉप ट्रेंड्स में आ गया। बहरहाल क्या देश लॉकडाउन 4 की ओर बढ़ेगा, या फिर पीएम मोदी कुछ राहतों का ऐलान करेंगे, इसका पता रात आठ बजे ही चल पाएगा।


वैसे लॉकडाउन के तीसरे चरण की मियाद 17 को पूरी हो रही है। कोरोना और लॉकडाउन को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को देश के सभी मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की थी। इस दौरान कई मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन आगे बढ़ाने की वकालत की थी।

लॉकडाउन 4 की ओर बढ़ेगा, या फिर पीएम मोदी कुछ राहतों का ऐलान करेंगे, इसका पता रात आठ बजे ही चल पाएगा।
वैसे लॉकडाउन के तीसरे चरण की मियाद 17 को पूरी हो रही है। कोरोना और लॉकडाउन को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को देश के सभी मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की थी। इस दौरान कई मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन आगे बढ़ाने की वकालत की थी।
लॉकडाउन 4 में अधिक रियायत मिलने के संकेत प्रधानमंत्री ने कल ही दे दिए थे। उन्होंने कहा था कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई के साथ कारोबार को भी रफ्तार देना जरूरी है। मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मोदी ने इसके आगे कहा कि धीरे-धीरे कई हिस्सों में आर्थिक गतिविधियां शुरू हो गई हैं और आने वाले दिनों में ये और तेज होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here