डायबिटीज (Diabetes) कई रोगों की जड़ है। यदि इसे समय रहते कंट्रोल ना किया जाए, तो कई अन्य शारीरिक समस्याओं को जन्म दे सकता है. डायबिटीज को मैनेज करने के लिए आपको ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करना होगा. कुछ ऐसी सब्जियां हैं, जो शुगर लेवल कंट्रोल करती हैं। जानें, उन सब्जियों के बारे में यहां…
एक्सपर्ट मानते हैं कि खून में शुगर बढ़ने के कई कारण होते हैं. जंक फूड ज्यादा खाने, ज्यादा चाशनी वाली चीजें, ज्यादा प्रोटीन वाली चीजें और ग्लाइसेमिक वाली चीजें कम खाने से शुगर लेवल बढ़ सकता है. ये सारा दोष हमारे खराब लाइफस्टाइल का है.
डायबिटीज के खतरे से बचने के लिए हमें हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करना चाहिए. पालक, करेला, ब्रोकली, गाजर, मेथी, बंदगोभी, टमाटर, शतावरी, खीरा, हरी बीन्स और बथुआ जैसी चीजें खाएं. ये सभी चीजें डायबिटीज में बड़ी फायदेमंद होती हैं. इनमें मौजूद एटीऑक्सीडेंट्स आपके दिल और आखों को स्वस्थ रखते हैं.

मधुमेह आहार चार्ट

  • मधुमेह के आहार में अगर सब्जियों की बात करें तो आप टमाटर, गाजर, ब्रोकोली, साग और मिर्च शामिल करें, ये सभी सब्जियां नॉनस्टार्च मानी जाती हैं। जबकि स्टार्ची सब्जियों में आप मक्का, आलू और हरी मटर शामिल करें।
  • फलों में आप तरबूज, संतरा, सेब, जामुन, अंगूर और केला शामिल करें।
  • अनाज में दिन के समय न्यूनतम आधा साबुत अनाज होना चाहिए. इसमें आप चावल, गेहूं, जई, जौ, कॉर्नमील और क्विनोआ शामिल कर सकते हैं।
  • प्रोटीन में आप दही, पनीर, मूंगफली, अंडे, बिना त्वचा का चिकन, मछली, दुबला मांस, मांस के विकल्प, जैसे टोफू का सेवन कर सकते हैं।
  • सरसों के तेल, कैनोला और जैतून के तेल का आप इस्तेमाल कर सकते हैं।

मधुमेह रोगी करें इन चीजों का परहेज

  • कैंडी, आइसक्रीम और मिठाई।
  • मिठाई, कैंडी, और आइसक्रीम।
  • सोडियम यानी अधिक नमक वाली चीजें।
  • ट्रांस वसा और संतृप्त वसा वाला भोजन और अन्य खाद्य पदार्थ न खाएं।
  • मीठा शरबत, जैसे- सोडा, शिंकजी, जूस, और खेल या ऊर्जा वाली ड्रिंक्स।
  • शराब का सेवन करने से बचे, अगर करते हैं तो 1 से ज्यादा न पीएं।

क्या डायबिटीज में मूंगफली खानी चाहिए? 

  • सर्दी के दिनों में मूंगफली (Peanuts) सबसे ज्यादा खाई जाती है। मूंगफली में एंटीऑक्सीडेंट, प्रोटीन, फैटी-एसिड, मिनरल्स, वसा, फाइबर, खनिज, विटामिन्स, कैल्शियम, विटामिन डी प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं. यह एक हेल्दी फूड है, जो शरीर को कई फायदे देती है। इसे अधिकतर लोग (Benefits of peanut) टाइम पास स्नैक्स की तरह खाते हैं। सर्दियों की धूप में छत पर बैठकर या फिर ऑफिस डेस्क पर, हर जगह लोग मूंगफली खाना पसंद (Peanuts in Diabetes) करते हैं.

फलों में क्या खाना चाहिए
ब्लड शुगर को कंट्रोल रखने के लिए कम कार्ब्स वाले फल खाने की सलाह दी जाती है. ऐसे में आप एवोकाडो, ब्लैकबैरी, रास्पबैरी, खरबूजा, स्ट्रॉबैरी, ब्लूबैरी, नींबू, नारियल, जैतून, स्टार फ्रूट, बेर, कीवी, चैरी, आड़ू और अमरूद खाने की सलाह दी जाती है.

ड्राई फ्रूट में क्या लें
बादाम-अखरोट जैसी मेवा न सिर्फ आपके कार्डियोवस्कुलर हेल्थ के लिए अच्छे हैं, बल्कि ये खून में शुगर लेवल को भी बैलेंस रखते हैं. बादाम, अखरोट, पीकन, मैकाडामिया, काजू और मूंगफली जैसी मेवा में ओमेगा-6 पाया जाता है जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद है.
मांस में क्या खाएं
मांस-मछली खाने के शौकीन लोगों को डाइट में विटामिन-डी और ओमेगा-3 फैटी एसिड शामिल कर लेना चाहिए. डायबिटीज में इससे शरीर को बड़े फायदे होते हैं. साल्मन, सरडाइन, झींगा और ट्राउट मछली में सबसे ज्यादा ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है. रेड मीट खाने से बचें.

इन चीज़ों का रहे ध्यान
डायबिटीज के रोगियों को घी, तेल, रिफाइंड जैसे चिकने पदार्थों का इस्तेमाल बहुत सोच-समझकर करना चाहिए. ऐसे तेल या फैट का इस्तेमाल करें जो एंटी इन्फ्लेमेटरी सैचुरेटड हों. प्रो-इन्फ्लेमेटरी पॉलीअनसैचुरेटड वाला तेल या फैट खाने से बचें.
अंडा और डेयरी प्रोडक्ट्स सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं, लेकिन आजकल इनमें भी तरह-तरह के कैमिकल्स का इस्तेमाल होने लगा है, इसलिए सतर्क रहें. अगर दूध छोड़ सकें तो बेहतर होगा. इसकी जगह यॉगर्ट या पनीर जैसी चीजों को डाइट में शामिल करें.

शारीरिक तौर पर इसलिए रहें सक्रिय
मधुमेह रोगियों के लिए शारीरिक गतिविधि यानी व्यायाम करना बेहद जरुरी है. इसकी मदद से आपके ब्लड शुगर के स्तर को प्रबंधित करने और सेहतमंद रहा जा सकता है. शारीरिक गतिविधि से मधुमेह के मरीजों को कई लाभ होते हैं. ब्लड प्रेशर कम, ब्लड शुगर का स्तर कम, ब्लड प्रवाहन में सुधार, मूड में सुधार, वजन कम होने में मदद, बूढ़े लोगों में याददास्त में सुधार और अच्छी नींद शामिल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here