नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को संबोधित कर रहे हैं। देश में जारी 21 दिनों का लॉकडाउन आज खत्म हो रहा है। हालांकि देश में बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुए सभी राज्यों ने प्रधानमंत्री से पिछले हफ्ते हुई बातचीत में लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने का आग्रह किया था।
कोरोना वायरस का प्रकोप देश में बढ़ता ही जा रहा है। लॉकडाउन 2.0 को लेकर पीएम मोदी ने बड़ी घोषणा की है। देश में अब 3 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा।

अगले एक सप्ताह में कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कठोरता और ज्यादा बढ़ाई जाएगी। 20 अप्रैल तक हर कस्बे, हर थाने, हर जिले, हर राज्य को परखा जाएगा, वहां लॉकडाउन का कितना पालन हो रहा है, उस क्षेत्र ने कोरोना से खुद को कितना बचाया है, ये देखा जाएगा। जो क्षेत्र इस अग्निपरीक्षा में सफल होंगे, जो हॉटस्पॉट में नहीं होंगे, और जिनके हॉटस्पॉट में बदलने की आशंका भी कम होगी, वहां पर 20 अप्रैल से कुछ जरूरी गतिविधियों की अनुमति दी जा सकती है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर सिर्फ आर्थिक दृष्टि से देखें तो अभी ये महंगा जरूर लगता है, लेकिन भारतवासियों की जिंदगी के आगे इसकी कोई तुलना नहीं हो सकती। सीमित संसाधनों के बीच, भारत जिस मार्ग पर चला है, उस मार्ग की चर्चा आज दुनियाभर में हो रही है। इन सब प्रयासों के बीच, कोरोना जिस तरह फैल रहा है, उसने विश्वभर के हेल्थ एक्सपर्ट्स और सरकारों को और ज्यादा सतर्क कर दिया है।

सात बातों का रहे ध्यान

देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सात बातों पर ध्यान रखें। बुजुर्गों का ध्यान रखें, लॉकडाउन का पालन करें, घर से बने मास्क का प्रयोग करें, इम्युनिटी बढ़ाने के निर्देशों का पालन करें, आरोग्य सेतु डाउनलोड करें, गरीबों की देखरेख करें, नौकरी से न निकालें, कोरोना योद्धाओं का आदर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here