हाईलाइट
• उत्तर प्रदेश की जनसंख्या पहुंची 20 करोड़ के पार
• दो बच्चों से ज्यादा वाले लोगों के लिए बना रही सख्त नीति

लखनऊ: यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार सूबे में बढ़ती जनसंख्या पर नियंत्रण लाने की दिशा में काम कर रही है. सरकार अपनी नई जनसंख्या नीति में उन राज्यों का अनुसरण करने के बारे में सोच रही है जहां आबादी पर नियंत्रण के उपाय कारगर साबित हुए हैं. इस नई जनसंख्या नीति में दो से ज्यादा बच्चे रखने वाले लोगों को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से वंचित रखने का प्रावधान शामिल किया जा सकता है. एक मीडिया रिपोर्ट की मानें तो योगी सरकार अपनी नई जनसंख्या नीति में दो से ज्यादा बच्चे रखने वाले लोगों को पंचायत चुनाव लड़ने और कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने से रोक सकती है.
उत्तर प्रदेश में इन दिनों जनसंख्या नियंत्रण को लेकर मची हलचल के बीच स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि परिवार नियोजन पर महिलाएं निर्णय करें, तभी इस विषय पर शत प्रतिशत सफलता मिलेगी. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जय प्रताप सिंह ने हाल ही में एक कार्यक्रम के दौरान यह बात कही थी. उन्होंने कहा, परिवार कल्याण कार्यक्रम में परिवार नियोजन एक महत्वपूर्ण मुद्दा है.
सदन में संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना ने भी कहा था कि सरकार जितने संसाधन बढ़ा ले लेकिन बढ़ती आबादी के आगे यह सब बौने ही साबित हो रहे हैं। मंत्री ने आश्वासन दिया है। इसे गंभीरता से देखेंगे और विचार करेंगे।
पंचायत चुनाव में लागू हो सकती है नई जनसंख्या नीति
प्रस्तावित जनसंख्या नीति को सरकारी नौकरियों से भी जोड़ने पर विचार चल रहा है। यह नीति भर्ती से लेकर प्रोन्नति के मामलों मे भी लागू रहेगी। इस साल होने वाले पंचायत और उसके बाद स्थानीय निकाय चुनावों से पहले ही नई जनसंख्या नीति बन जाने की संभावना है। नीति को सबसे पहले पंचायत चुनावों में लागू किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here